वॉटसन के तूफानी शतक ने चेन्नई सुपरकिंग्स को दिलाया आईपीएल का खिताब

खेल कूद
Typography

स्पोर्ट्स डेस्क -- आईपीएल-2018 में रविवार को मुम्बई के वानखेडे स्टेडियम में खेले गए खिताबी मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स ने ओपनर शेन वॉटसन नाबाद 117 रन के तूफानी शतक की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से रौंदते हुए तीसरी बार आईपीएल के खिताब पर कब्जा जमा लिया।

179 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई 9 बॉल शेष रहते हुए ही जीत हासिल कर ली। वॉटसन के साथ अंबाती रायडू 17 रन बनाकर नाबाद रहे।हैदराबाद द्वारा मिले 179 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स की शुरुआत निराशाजनक रही। 16 रन के स्कोर पर ही सीएसके का पहला विकेट गिरा। संदीप शर्मा ने चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर सीएसके के सलामी बल्लेबाज फाफ डू प्सेसी (10) को खुद की गेंद पर खुद कैच लेते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स को तगड़ा झटका दिया।

इसके बाद ओपनर शेन वॉटसन ने सुरेश रैना 32 के साथ शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम के स्कोर को 13 ओवर में 130 के पार पहुंचा दिया। इसके बाद 14वें ओवर की तीसरी गेंद पर कार्लोस ब्रेथवेट ने सुरेश रैना को विकेटकीपर श्रीवत्स गोस्वामी के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। दूसरे विकेट के लिए दोनों बल्लेबाजों के बीच 117 रन की साझेदारी हुई।

इसके बाद बल्लेबाजी पर रायडू ने वॉटसन के साथ बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए कोई विकेट नहीं गिरने दिया और 19वें ओवर की तीसरी बॉल पर चौका जड़ते हुए टीम को खिताब दिला दिया। इससे पहले वॉटसन ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए मैदान के चारो ओर शॉट खेले। वॉटसन ने अपनी पारी में 57 बॉल का सामना करते हुए 11 चौके व 8 बेहतरीन छक्के भी जड़े। वॉटसन ने आईपीएल के इतिहास में फाइनल मैच में लक्ष्य का पीछा करते हुए शतक जमाने वाला पहला बल्लेबाज बनने की उपलब्धि भी हासिल की।

इससे पहले टॉस हारकार पहले खलते हुए सनराइजर्स हैदराबाद ने यूसुफ पठान नाबाद 45, केन विलियमसन 47, शिखर धवन 26, शाकिब अल हसन 23 तथा ब्रेथवेट 21 रनों की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 178 रन का स्कोर खड़ा किया था। चेन्नई की ओर से एनगीडी, ठाकुर, शर्मा, ब्रावो, जड़ेजा ने एक-एक विकेट लिया।

BLOG COMMENTS POWERED BY DISQUS
Sign up via our free email subscription service to receive notifications when new information is available.