केरल में समय से पहले मानसून ने दी दस्तक,भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

देश
Typography

न्यूज डेस्क -- भीषण गर्मी के बीच जल रहे उत्तर भारत में मानसून ने समय से तीन दिनों पहले ही केरल में दस्तक दी है. केरल के तटवर्ती इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है.मौसम विभाग की माने तो अगले 24 घंटे में कई अन्य इलाकों में भी बारिश होगी.

तमिलनाडु, बंगाल की खाड़ी और अंडमान सागर में भी तेज बारिश के आसार हैं. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक एक महीने के भीतर पूरे भारत में मानसून का असर दिखेगा.

बता दें कि आमतौर पर मॉनसून केरल के तट पर 1 जून को टकराता है. एक महीने में यह देश के अन्य हिस्सों तक पहुंचता है. मौसम विभाग के अनुसार इस साल सामान्य बारिश होने की संभावना है. केरल में मानसून की दस्तक के बीच बिहार, झारखंड और यूपी के कई इलाकों में तेज हवा के साथ भारी बारिश हुई है. आंधी-तूफान की वजह से अबतक 43 लोगों की मौत की खबर है.

स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह न कहा, "केरल में मॉनसून जैसी स्थितियां हैं. हम कह सकते हैं कि बारिश का मौसम आ गया है." बता दें कि स्काईमेट ने बताया था कि मॉनसून 28 मई को भारत पहुंचेगा जबकि मौसम विभाग ने 29 मई को इसकी संभावना जताई थी.

मौसम विभाग के अनुसार, 10 मई के बाद अगर 14 स्टेशनों पर लगातार दो दिनों तक 2.5 मिलीमीटर या उससे ज़्यादा बारिश होती है तो दूसरे दिन मॉनसून आने की घोषणा की जाती है. यह मॉनसून की घोषणा करने का सबसे बड़ा पैरामीटर है.इसके अलावा दूसरे पैरामीटर भी हैं. पश्चिमी हवाएं समुद्र तल से 15000 फीट ऊपर होनी चाहिए और लॉन्ग वेव रेडिएशन पर भी नज़र रखी जाती है.