यूपी समेत तीन राज्यों में तूफान का कहर, भारी तबाही, 35 लोगों की मौत

देश
Typography

न्यूज डेस्क -- देश के पूर्वी हिस्सों में एक बार फिर आये जानलेवा तूफान ने उत्तर प्रदेश समेत तीन राज्यों में जमकर कहर भरपाया. आंधी तूफान और बिजली गिरने वजह से 28 लोगों की मौत हो गई है. बिहार के गया, कटिहार और औरंगाबाद में सबसे ज्यादा तबाही हुई है.

वहीं यूपी के उन्नाव में भी आंधी तूफान का कहर दिखा है. इस तबाही में करीब 33 लोगों की मौत हो गई.जबकि कई लोगों के घायल होने की खबर सूचना हैं.बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव में आंधी-तूफान और बिजली गिरने से चार लोगों की मौत हो गई. वंही मंडई गांव में भी दीवार गिरने से एक महिला की मौत हो गई और खैरा गांव में पेड़ गिरने से एक युवक की मौत घटनास्थल पर ही हो गई. कल शाम यहां के कई इलाकों में आंधी की वजह से पेड़ गिर गए. कई घर तूफान में तबाह हो गए.

वहीं बिहार के गया में खिजरसराय प्रखंड में तीन गांवों में तीन लोगों की मौत हो गई और तीन लोग जख्मी हुए हैं.खिजरसराय प्रखंड के रौनिया गॉव में तेज आंधी से घर की दीवार गिर जाने से एक महिला की मौत हो गयी. तीन घायल हो गए. घायलों को खिजरसराय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है.

इसके अलावा बिहार के ही कटिहार में कोढ़ा प्रखंड में तूफान में दो बच्चों समेत चार लोगों की मौत हो गई है और औरंगाबाद में बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई. इनमें चार महिलाएं भी शामिल हैं. ये घटनाएं दाउदनगर, पौथु, रफीगंज और बंदेया थाना क्षेत्रों में घटी हैं.बता दें कि सभी मृतक खेतों में काम कर रहे थे और मवेशियों को चराने निकले थे.झारखंड के भी कई हिस्सों में सोमवार देर शाम तेज आंधी और बारिश से कुल 16 की मौत की सूचना है.

बढ़ सकती है मृतकों की संख्या

बिहार, झारखंड और यूपी के उन्नाव जिले में आंधी-तूफान से मरने वालों की संख्या 35 पहुंच गई है और आशंका जताई जा रही है कि हताहतों की संख्या में और इजाफा हो सकता है. फिलहाल प्रशासन ने बचाव-राहत का कार्य शुरू कर दिया है.